September 21, 2021

Himachal News 24

Read The World Today

नाबार्ड के नियम तोड़ने पर सहकारी बैंक पर 40 लाख रुपये का जुर्माना

नाबार्ड के नियम तोड़ने पर सहकारी बैंक पर 40 लाख रुपये का जुर्माना

नाबार्ड के नियम तोड़ने पर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने राज्य सहकारी बैंक शिमला पर 40 लाख रुपये का बोझ लगाया है। आरबीआई ने नाबार्ड के धुंध से जुड़े मामलों की निगरानी और निर्देशों के दिशा-निर्देशों की समीक्षा की। आरबीआई ने पाया कि बैंक ने नाबार्ड की धुंध से जुड़े मामलों की गाइडलाइन की अनुपालना नहीं की।

नाबार्ड की गाइडलाइन के तहत काल्पनिक के मामलों की संबंधित बैंक को तीन सप्ताह के भीतर इंश्योर पोर्टल पर रिपोर्ट करनी होती है, लेकिन रिपोर्ट नहीं की गई। इसके कारण आरबीआई ने यह कदम उठाया। बताया जा रहा है कि ये गोलीबारी के मामले 2013 से लेकर 2017 के बीच के हैं, जिनकी रिपोर्ट पोर्टल पर बैंक की ओर से नहीं डाली गई है। हालांकि स्थानीय बैंक अधिकारियो का कहना है कि गोलीबारी के मामलों पर सख्त कदम उठाए गए हैं और ग्राहकों से रिकवरी की गई है।

नाबार्ड के नियम तोड़ने पर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने राज्य सहकारी बैंक शिमला पर 40 लाख रुपये का बोझ लगाया है। आरबीआई ने नाबार्ड के धुंध से जुड़े मामलों की निगरानी और निर्देशों के दिशा-निर्देशों की समीक्षा की। आरबीआई ने पाया कि बैंक ने नाबार्ड की धुंध से जुड़े मामलों की गाइडलाइन की अनुपालना नहीं की।

नाबार्ड की गाइडलाइन के तहत काल्पनिक के मामलों की संबंधित बैंक को तीन सप्ताह के भीतर इंश्योर पोर्टल पर रिपोर्ट करनी होती है, लेकिन रिपोर्ट नहीं की गई। इसके कारण आरबीआई ने यह कदम उठाया। बताया जा रहा है कि ये गोलीबारी के मामले 2013 से लेकर 2017 के बीच के हैं, जिनकी रिपोर्ट पोर्टल पर बैंक की ओर से नहीं डाली गई है। हालांकि स्थानीय बैंक अधिकारियो का कहना है कि गोलीबारी के मामलों पर सख्त कदम उठाए गए हैं और ग्राहकों से रिकवरी की गई है।